Wednesday, May 29, 2024
Vacancies

खेलकूद

खेल तो जैसे भारत के आदिवासी समुदायों के आम जनजीवन का अभिन्न हिस्सा हैं, लेकिन उनके पारंपरिक खेल अब लगभग विलुप्त हो चुके हैं। भले देश में आदिवासी समुदाय से कई प्रसिद्ध खिलाड़ी हैं, लेकिन बड़ी संख्या ऐसे सितारों की भी है जो तमाम उल्लेखनीय उपलब्धियों के बावजूद गुमनाम हैं। द इंडियन ट्राइबल ऐसे ही आदिवासी खेलों और उनसे जुड़े खिलाडिय़ों से रूबरू कराता है।

आदिवासी बच्चों का भविष्य निखार रहा सीसीएल का ‘प्रोजेक्ट फुटबॉल’

कोल इंडिया लिमिटेड की सहायक कंपनी सेंट्रल कोलफील्ड्स लिमिटेड (सीसीएल) की सीएसआर पहल फुटबॉल का शौक रखने वाले होनहार खिलाडिय़ों खासकर आदिवासी बच्चों के लिए वरदान साबित हो रही है। एनजीओ आशा के निमंत्रण पर The Indian Tribal के संस्थापक-संपादक एम. मधुसूदन ने ‘प्रोजेक्ट फुटबॉल’ पर करीब से [...]

Read more

ओडिशा के इस आदिवासी युवक की बात ही कुछ और है

वुशु, किकबॉक्सिंग और थाई बॉक्सिंग में खूब नाम कमाने के बाद 17 वर्षीय भुइयां लडक़ा अब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर छाने के लिए इंडोनेशियाई पेनकैक सिलाट की ओर मुड़ गया है। क्या हैं उसके इरादे, बता रहे हैं निरोज रंजन मिश्र

Read more

आदिवासियों की ‘हॉकी’ को बचाने की जद्दोजहद

जनजातीय समुदाय के लोगों के मनोरंजन का बेहतरीन साधन सदियों पुराना पारंपरिक खेल फोड़ी अब विलुप्त होता जा रहा है। झारखंड में स्थानीय ग्रामीणों के साथ मिलकर कुछ सामाजिक संगठन इस खेल को बचाने के प्रयास में जुटे हैं। सुधीर कुमार मिश्रा की रिपोर्ट

Read more

असम में मजबूत कद-काठी का दूल्हा चाहिए, तो ये खेल देखो

असम के कई आदिवासी गाँवों में इस खेल में बुजुर्ग अपनी बेटियों या पोतियों के लिए मजबूत कद-काठी वाला दूल्हा तलाशते हैं। कुछ अमीर और समृद्ध किसान अपने खेतों में मजदूरी के लिए बलशाली युवाओं को भी इसी खेल के माध्यम से छांट लेते हैं। क्या है यह [...]

Read more

मेघालय के इस खेल में पुरस्कार में मिलते हैं चावल, आलू और मुर्गियां

लगभग 400 साल पहले इस स्वदेशी खेल की उत्पत्ति मानी जाती है और आज भी यह जैन्तिया, खासी और गारो पहाड़ी जनजातियों के बीच बेहद लोकप्रिय है। क्या है यह खेल, बता रही हैं प्रोयशी बरुआ

Read more

तीरंदाज को बाधाओं ने घेरा तो रास्ता बदल कर साधा सफलता पर निशाना

एक होनहार संथाल खिलाड़ी को प्रारंभिक दौर में ही कंधे में दर्द उठने के कारण तीरंदाजी करियर को विराम देना पड़ा, परंतु उन्होंने हार नहीं मानी और कोच के रूप में खूब नाम कमाया। इस प्रतिभावान खिलाड़ी के संघर्ष और सफलता की परतें खोलकर लाए हैं निरोज मिश्रा

Read more

झारखण्ड में विलुप्त होते पारम्परिक आदिवासी खेलों को बचाने की मुहिम

टाटा स्टील की सहायक कंपनी टाटा कल्चरल सोसाइटी विलुप्त होने के कगार पर पहुंच चुके खेलों को फिर लोकप्रिय बनाने की दिशा में काम कर रही है।सुधीर कुमार मिश्रा की रिपोर्ट

Read more

गुजरात के ‘भूखे शेर’ को खा गए टेलीविजन और मोबाइल!

पश्चिमी राज्य में आदिवासियों के बीच पीढ़ी दर पीढ़ी खेले जाने वाले कुछ मनोरंजक, आसान और पारंपरिक खेल अब लुप्त हो चुके हैं। ऐसे ही एक खेल के बारे में बता रही हैं मयूरी दवे

Read more

कुछ अलग ही हैं तीरंदाजी दत्शा डोको के नियम

कभी राजा-महाराजाओं द्वारा शुरू की गई तीरंदाजी खेल परंपरा सिक्किम के कुछ हिस्सों में आज भी लोकप्रिय है। आदिवासी लोग बड़े शौक से इसमें हाथ आजमाते हैं। जितना रोचक यह खेल है, इससे अधिक रोचक हैं इसका स्कोरिंग सिस्टम। इस प्राचीन विशिष्ट खेल और इसके नियमों पर प्रकाश [...]

Read more

नागालैंड का आदिवासी खेल: ग्रीस लगे चिकने खंभे पर चढ़े तो जानें

नागालैंड सरकार ऐसे स्वदेशी खेलों का प्रचार-प्रसार कर रही है जो कभी बहुत लोकप्रिय हुआ करते थे और आज भी लोग उनमें रूचि लेते हैं। ऐसा ही एक खेल है ग्रीस लगे बांस पर चढऩा। इसके बारे में बता रही हैं प्रोयशी बरुआ

Read more

In Numbers

705
Individual ethnic groups are notified as Scheduled Tribes as per Census 2011
srijan creative arts srijan creative arts srijan creative arts
ADVERTISEMENT